शैली और भाषा कविता के अभिन्न अंग

पटना विमेंस कॉलेज में अंग्रेजी पोएट्री पर ऑनलाइन अतिथि व्याख्यान का आयोजन किया गया

पटना विमेंस कॉलेज के कम्युनिकेटिव इंग्लिश एवं मीडिया स्टडीज विभाग के द्वारा शुक्रवार दिनाक  १३ अगस्त २०२१ को ऑनलाइन अतिथि व्याख्यान का आयोज किया गया . विषय था – “दी वेरियस एप्रोच टू राइटिंग पोएट्री- शुड वन बौदर ?”. इस विषय पर ए एम कॉलेज गया के अंग्रेजी विभाग के सहायक प्राध्यापक डॉ. अमृतेंदु घोषाल ने विस्तार से चर्चा की. कार्यक्रम की शुरुआत विभागाध्यक्षा डॉ तौसिफ हसान ने  स्वागत  संबोधन से किया, जिसमें उन्होंने अतिथि वक्ता का स्वागत करते हुए कहा की भाषा एक संचार माध्यम हैं, जिसकी सम्प्रेषण क्षमता उसके कलात्मक और प्रोयोगात्मक उपयोग से और बढ़ाई जा सकती है, जिसमें आलेख के अलावा कविता की भी भूमिका होती है. विषय पर बोलते हुए डॉ अमृतेंदु ने प्रेजेंटेशन के माध्यम से कविता के मूल तत्व , विषय सन्दर्भ और आदर्श कविता के बारे में बताया . उन्होंने शैली और भाषा को कविता का बेहद अभिन्न अंग बताया और इसकी व्याख्या करते हुए अंग्रेजी के श्रेष्ठ कविओं की रचना  का पाठ भी किया. अंग्रेजी कविता में भारतीय कवियों की भूमिका और उनके लेखन शैली पर भी चर्चा की. उन्होंने छात्राओं को सलाह दिया की वे कविता के इतिहास का अध्ययन करें और अगर लिखने में रूचि हो तो पढने की आदत डालें. कार्यक्रम के अंत में छात्राओं ने अपने सवाल भी पूछे और अपनी ज्ञान पिपासा को शांत किया . कार्यक्रम में संकाय के प्राध्यापक आश्रिता, रुना, अमिताभ रंजन, प्रशांत रवि और अजय झा ने भी भाग लिया. कार्यक्रम संचालन गीतिका रंजन और धन्यवाद ज्ञापन तुवा रहमान ने किया.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

This site uses Akismet to reduce spam. Learn how your comment data is processed.